क्राइमदेशफोटो गैलरीमध्यप्रदेशवीडियो गैलरी

अवैध रेत कारोबार को रोकने में नाकाम रहे ऊमरी और नयागांव थाना प्रभारी को एसपी ने किया लाइन अटैच।

गणेश शाक्य

Bhind news: रेत के अवैध कारोबार पर अंकुश लगाने में नाकाम रहे दो थाना प्रभारियों को भिंड एसपी मनीष खत्री ने पुलिस लाइन का रास्ता दिखा दिया है। दोनों ही थाना प्रभारियों के इलाकों में अवैध रेत उत्खनन और परिवहन होता हुआ मिला था। इसके साथ ही रेत का अवैध भंडारण भी था। इन दोनों लापरवाह थाना प्रभारियों को एसपी मनीष खत्री ने तुरंत पुलिस लाइन अटैच कर दिया है। दरअसल भिंड एसपी मनीष खत्री रेत के अवैध कारोबार को रोकने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। शनिवार को एसपी मनीष खत्री ने ऊमरी और नयागांव थाना इलाके में पहुंचकर रेत के अवैध कारोबार के खिलाफ कार्रवाई की थी। यहां एक पनडुब्बी को जलाया गया था। अवैध रेत से भरे हुए 2 ट्रैक्टर ट्रॉली को पकड़ा गया था। इसके अलावा बड़ी मात्रा में ऊमरी और नयागांव थाना इलाकों में रेत का अवैध भंडारण भी मिला था। यह नजारा देखकर एसपी मनीष खत्री समझ गए कि नयागांव थाना प्रभारी कमल कांत दुबे और ऊमरी थाना प्रभारी मनोज सिंह राजपूत दोनों ही रेत माफिया पर नकेल कसने में नाकाम साबित हुए हैं। दोनों ही थाना प्रभारी की लापरवाही सामने आने के बाद एसपी मनीष खत्री समझ गए कि यह थाना प्रभारी इतनी कुशल पुलिसिंग नहीं कर सकते हैं जिससे अवैध रेत कारोबार पर रोक लगाई जा सके इसलिए एसपी मनीष खत्री ने तत्काल प्रभाव से उमरी थाना प्रभारी मनोज सिंह राजपूत और नयागांव थाना प्रभारी कमल कांत दुबे को पुलिस लाइन अटैच कर दिया है। इससे संबंधित आदेश भी रविवार को जारी कर दिया गया है। अब दोनों ही थाना प्रभारी से उनके थाने छिन गए हैं। जल्द ही दोनों स्थानों पर नई पदस्थापना होगी लेकिन उस वक्त भी देखने वाली बात यह होगी कि आखिर एसपी मनीष खत्री की नजरों में ऐसे कौन से थाना प्रभारी हैं जो रेत माफिया पर नकेल कसते हुए अपने-अपने थाना इलाकों में रेत के अवैध कारोबार को रोक सकेंगे।

Shining MP

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!